PYAR "प्यार"

 पूछते हैं प्यार क्या है? प्यार होता है पर क्यों? अनेक मतलब है पर सही मतलब क्या है प्यार का ?

प्यार के बारे कई प्रकार के  और कई सारे में ऐसे सवाल हमारे मन में पैदा होते हैं जिनका जवाब हमें हमारे अनुभव से देना पड़ता है हम इसी विषय पर बात करेंगे प्यार क्या होता है

प्यार क्या है? प्यार होता है पर क्यों? Qescxb

“प्यार” हमेशा पूछते हैं प्यार क्या है?

प्यार एक ऐसा शब्द है जैसे समुद्र की जितनी गहराई नाप नहीं सकते इसी तरह इस प्यार शब्द को हम पूरी तरह से जान नहीं सकते दोस्तों प्यार एक ऐसी उम्मीद है कि जीवन में हर किसी को होती है

  1. हर एक के जीवन में प्यार करता है किसी को प्यार में धोखा भी मिलता है तो किसी के प्यार ने उसकी जिंदगी बन जाती है और जिंदगी जीने का मुख्य आधार प्यार ही है
  2. प्यार कभी किसी की उम्र नहीं देखता प्यार हमेशा होता है उसे किसी भी प्रकार का उम्र का या सुंदरता भाग्य दुर्भाग्य ऐसा कोई बंधन नहीं होता प्यार हमेशा अच्छे व्यक्तियों से ज्यादा होता है
  3. इस प्यार शब्द को ना कोई सीमा है ना पड़े जीवन में अति मूल्य ऐसे प्यार को समझना बहुत ही जरूरी है इस शब्द के आधार पर ही आपका जीवन है जिन व्यक्तियों को प्यार नसीब नहीं होता उनकी क्या हालत होती है यह आजकल देखते हैं
  4. प्यार में वो बातें है जो नामुमकिन बातों को भी मुमकिन कर देती है प्यार में वह ताकत है हर मुश्किल से मुश्किल समय में कोई इंसान को आगे बढ़ाता है
  5. प्यार हो सकती है जो जीवन में जन्म से लेकर मृत्यु तक हमेशा हमारे साथ साए की तरह होता है एक ऐसी अनजान शक्ति है जो दिखती नहीं पर होती है

प्यार होता है पर क्यों हम ?

दोस्तों अक्सर ऐसे सवाल जानते हुए भी हम पूछते हैं प्यार क्या होता है हमें पता है कि जीवन में प्यार अमूल्य चीज है जिसे नहीं मिलता उसकी हालत क्या होती है यह भी हमें पता है और जीने का जो सही रास्ता है वह हमें प्यार के माध्यम से ही मिलता है प्यार एक दूसरे को जोड़ता है प्यार में माता-पिता का रिश्ता जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है उस हिसाब से हमारे रिश्ते बढ़ते बढ़ते जाते हैं मुख्यतः से प्यार एक दूसरे को बंधन में बांधने की लिए सबसे असरदार है और जीवन में प्यार मिलना ही चाहिए वरना जीवन बेकरार होता है हर व्यक्ति जीवन में हमेशा ही यही खोजता है कि हमें सभी से प्यार मिले हम खुशी से जिए क्योंकि जीने के लिए प्यार बहुत ही जरूरी है और प्यार एक दूसरे को होता नहीं वो खुद तो खुद हम एक दूसरे से प्यार करते हैं और हमें पूछते हैं कि प्यार क्यों होता है ऐसी बहुत सारी घटना हमारे जीवन में होती है जिससे हम एक दूसरे के नजदीक आ जाते हैं और नजदीकी बढ़ने की वजह से हमारा प्यार बढ़ता है एक दूसरे में हम जुड़ जाते हैं उसी को प्यार होना कहते हैं

अनेक मतलब है पर सही मतलब क्या है प्यार का?

अनेक मतलब है पर सही मतलब क्या है प्यार का?

प्यार का मतलब यही है दोस्तों की हमें एक दूसरे से प्यार के रिश्ते से बंधा हुआ होना चाहिए हमारे जीवन में हर परिस्थिति में हम एक दूसरे के साथ होंगे तो हर किसी भी परिस्थिति में हम सही मार्ग निकालकर हम अपने मुकाम तक पहुंचेंगे प्यारी है शब्द हमें यही सीख देता है कि हम एक दूसरे से बंधे हुए रहना चाहिए प्यार एक रिश्ता बनता है जिससे हम जैसे मानव जन्म होते ही एक मां का एक बेटे से उसी बेटे का एक पिता से उसके भाई से बहन से ऐसे कई सारे रिश्ते बनते हैं और उन रिश्तो को एक साथ जोड़कर रखने के लिए प्यार होना बहुत ही जरूरी है धन्यवाद

और अन्य किसी भी बातों की जानकारी के लिए हमारे दूसरे और पेज और पोस्ट देखिए और हमारी पोस्ट आपको कैसी लगती है आप जरूर नीचे कमेंट करके बताइए और आपकी भी प्यार के बारे में क्या राय है वह जरूर लोगों तक पहुंचाने के लिए कमेंट बॉक्स में कमेंट कीजिए और यदि आप यहां पोस्ट करना चाहते हो तो हमसे संपर्क कीजिए

Post a Comment

0 Comments